विधान केसरी अखबार में खबर छपने के बाद बिजली विभाग ने किया गांव का निरीक्षण